राष्ट्र के गौरव के लिए प्राणों की आहूति भी देनी पड़ी तो पीछे नहीं हटूंगाः शेर सिंह राणा

लखनऊ। बाराबंकी के रामनगर में अंतिम हिंदू सम्राट पृथ्वीराज चौहान की समाधि की मिट्टी अफगानिस्तान से भारत लाने वाले हिंदू गौरव के प्रतीक राष्ट्रवादी जनलोक पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक  शेर सिंह राणा  का भव्य स्वागत रामनगर में शिवांश विक्रम सिंह के नेतृत्व में करते हुए लोधेश्वर महादेवा पहुंचकर पूजा अर्चना की तत्पश्चात ब्लॉक सूरतगंज के जेठवासी गांव में उदयभान सिंह के घर सम्मान समारोह में पहुंचे।
उपस्थित जन को संबोधित करते हुए राणा ने अपनी अफगानिस्तान यात्रा में हुई कठिनाइयों को साझा किया और अपने द्वारा लिखी हुई पुस्तक “जेल डायरी “काबुल से कंधार तक का सफर पे चर्चा करते हुए कहा कि राष्ट्रीय के गौरव और हिन्दू सभ्यता और संस्कृति की रक्षा करते हुए उनको अपने प्राणों की आहुति देनी पड़ी तो वह पीछे नहीं हटेंगे।
सम्मान करने वालों में प्रमुख रूप से शिवांश विक्रम सिंह, उदयभान सिंह ,ब्लॉक सूरतगंज के पूर्व ब्लाक प्रमुख ज्ञानू सिंह, चेयरमैन गन्ना विकास परिषद बुढ़वल ओम नारायण सिंह, गुड्डू ,ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि आशीष सिंह, छेदी सिंह, प्रकाश सिंह ,राजेश सिंह, विनोद कुमार सिंह उर्फ गुड्डू , शिव प्रताप सिंह, राहुल रावत, आदित्य कनौजिया, विकास सिंह, अक्षत प्रताप सिंह, अनंग सिंह, शाश्वत सिंह, अतुल सिंह, रवि सिंह, विवेक सिंह रणवीर सिंह, रामवीर सिंह, आशु आदर्श सिंह, आदि लोग प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Be the first to comment on "राष्ट्र के गौरव के लिए प्राणों की आहूति भी देनी पड़ी तो पीछे नहीं हटूंगाः शेर सिंह राणा"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*


%d bloggers like this: