इस्लामाबाद के संग्रहालय में लगाई गई भगवान बुद्ध की दुर्लभ मूर्ति




http://janrebel.eu/100jaar/nggallery/page/2/album-21/limburg-landhuis-1976-vnk इस्लामाबाद, इस्लामाबाद के संग्रहालय में भगवान बुद्ध के सिर की एक दुर्लभ मूर्ति लगाई गई है। सालों से वह उसके भंडार गृह में पड़ी थी।

If xanthan gum is chosen instead of guar gum, the solids content may be between 40 and 70 g/tablet (a). ‘डॉन’ की खबर के अनुसार तीसरी और चौथी शताब्दी ई. की यह मूर्ति पाकिस्तान में पहले इतालवी पुरातात्विक मिशन ने खोजी थी।

When used as a sedative, ativan caused users to wake up and they would stay awake for several hours. यह 60 के दशक में खुदाई में मिली थी और आखिरी बार इसे 1997 में संग्राहलय में लगाया गया था।

http://janrebel.eu/100jaar/ इस्लामाबाद संग्रहालय के निदेशक डॉक्टर अब्दुल गफूर लोन ने कहा, ‘‘स्वात के पत्थर से बनी भगवान बुद्ध की यह मूर्ति अत्यधिक दुर्लभ है। स्वात घाटी मुख्य रूप से पत्थर की मूर्तियों के लिए मशहूर है।’’

उन्होंने बताया कि तक्षशिला और अफगानिस्तान में अक्सर भगवान बुद्ध की मूर्तियां पाई जाती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Post

कोविड-19 के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच वुहान में खुला 73 दिन का लॉकडाउनकोविड-19 के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच वुहान में खुला 73 दिन का लॉकडाउन



बीजिंग/वुहान, वुहान जहां से कोरोना वायरस महामारी शुरू हुई और पूरी दुनिया में फैल गई, वहां 73 दिन के बाद, बुधवार को लॉकडाउन खत्म हो गया है। हालांकि देश में

मनाली में रूसी महिला के साथ दुष्कर्ममनाली में रूसी महिला के साथ दुष्कर्म



शिमला, रूस की एक महिला ने आरोप लगाया है कि मनाली में दो अज्ञात लोगों ने उसके साथ दुष्कर्म किया। कुल्लू की पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री ने शुक्रवार को बताया